पुरानी पोस्ट अपडेट करके 450% ब्लॉग ट्रैफ़िक बढ़ाने का तरीका

225

जब तक मैंने इसका अनुभव नहीं, किसी पोस्ट के सर्च इंजन में नीचे खिसक जाने से कैसे आपके ब्लॉग के रीडर भी खिसक जाते हैं। अगर कोई पोस्ट आपने 2014 में लिखी थी वह कीवर्ड ऑप्टीमाइज़ नहीं थी तो सर्च इंजन में जाने कितने पेज पीछे चली जाएगी। बाइ चांस हो सकता है कि किसी वजह से वह सर्च में अपनी टॉप पोज़ीशन बनाए रखे लेकिन सभी पोस्टें ऐसा नहीं करेंगी तो ऐसी स्थिति में आपको क्या करना चाहिए? बस, अपनी पुरानी ब्लॉग पोस्ट अपडेट  करो। कैसे? आगे जानिए…

पहले बहुत सी पोस्टें हम बिना कीवर्ड रिसर्च किए या ऑन-पेज ऑप्टीमाइज़ेशन स्ट्रैटजी के लिख दिया करते थे और बाक़ी सर्च इंजन बॉट्स की समझ पर छोड़ दिया करते थे। लेकिन अगर बॉट्स समझ भी जाए तो भी वह कुछ समय बाद आपकी पोस्ट को सर्च में नीचे या पीछे के पेजों पर खिसका देता था। अगर आप दो साल तक कोई पोस्ट अपडेट न करो तो आपकी पोस्ट से आगे दूसरे ब्लॉग की नई पोस्टें निकल जाएंगी। ज़ाहिर है कि ऐसा होने पर आपको बहुत बुरा लगेगा।

पोस्ट अपडेट करके ट्रैफ़िक पाएँ

आपके ब्लॉग पर ज़रूर कुछ ऐसी पोस्टें होंगी जिनके कारण आपके ब्लॉग पर बड़ा ट्रैफ़िक आता होगा और आपकी आमदनी में वो सहायता करती होंगी।

पुरानी ब्लॉग ब्लॉग पोस्ट अपडेट कैसे करें?

भाग्य से अगर आपकी किसी पोस्ट पर ट्रैफ़िक गिरने लगे और आपको उसे सम्भालने के बहुत आसान और कारगर उपाय मौजूद हैं। अगर आप इन उपायों को सही से फ़ॉलो करें तो आप पुरानी पोस्टों को सर्च में फिर से टॉप पोज़िशन दिला सकते हैं। इसके लिए नीचे दी गयी टिप्स को अपनाएँ –

  1. अपने पुराने आर्टिकल्स को दुबारा नई प्रकार से लिखिए और ब्रोकेन लिंक को फ़िक्स कीजिए।
  2. ऑन-पेज एसईओ को एक दुरुस्त रखिए।
  3. अपडेट किए हुए आर्टिकल्स का अच्छा प्रोमोशन कीजिए और कुछ बैकलिंक भी बनाइए।

1. पुराने आर्टिकल को दुबारा लिखना

  • सबसे पहले अपनी ब्लॉग पोस्ट का टाइटल बदलिए और उसमें कीवर्ड का प्रयोग कीजिए।
  • इसके बाद आप उसमें 50-100 शब्दों का एक नया पैराग्राफ़ डालिए और एक डीप लिंक प्रयोग कीजिए।
  • अगर कोई स्पेलिंग मिस्टेक हो तो उसे ठीक करिए और पोस्ट का स्ल्ग (Slug) ठीक कीजिए।

2. पोस्ट को नयी तारीख में पब्लिश कीजिए

  • पोस्ट को नयी तारीख में पब्लिश करके गूगल को आप बताते हैं कि आपने कंटेंट अपडेट किया। साथ ही साथ ब्लॉग पर
  • आने वाले विजिटर्स भी आपकी पोस्ट में हुए बदलाव को नोटिस करते हैं।
  • किसी वर्डप्रेस ब्लॉग पर तो पोस्ट एडीटर दायीं ओर पोस्ट की तारीख बदलने का विकल्प दिया होता है।
  • अगर आपर ब्लॉग प्रयोग कर रहे हैं तो भी तारीख बदलने का विकल्प दायीं ओर ही मिलेगा।

3. एसईओ मेटा डेटा को अपडेट कीजिए

  • हो सकता है कि आपने पहले कोई एसईओ प्लगिन न प्रयोग किया हो। लेकिन आप आज से ही प्रयोग करना शुरु कर दें। वर्ड प्रेस के लिए अच्छे से अच्छे एसईओ प्लगिन मौजूद हैं।
  • इसके बाद आप पोस्ट अपडेट करते समय मेटा डिस्क्रिप्शन, मेटा कीवर्ड्स का प्रयोग करें।
  • अगर आपने पहले भी एसईओ प्लगिन प्रयोग किया हो तो आप मेटा डिस्क्रिप्शन को और अच्छे से लिखकर अपडेट करें।
  • ब्लॉगर में पहले एसईओ के विकल्प नहीं थे, इसलिए अगर आप ब्लॉगर प्रयोग करते हैं तो मेटा डिस्क्रिप्शन और कस्टम परमालिंक जैसे एसईओ मेटा टैग का लाभ उठाएँ।

4. नये आर्टिकल की तरह प्रोमोशन करें

  • एक बार पोस्ट ऑप्टीमाइज़ कर लेने के बाद आप उसका बिल्कुल नयी पोस्ट की तरह प्रोमोशन करें।
  • प्रोमोशन के लिए आप सोशल मीडिया, गेस्ट पोस्ट, ईमेल और ब्लॉग कमेंट सबसे आसान तरीके हैं।

जब आप पोस्ट ऑप्टीमाइज़ेशन पूरा कर लेते हैं तो सर्च इंजन में आपकी पोस्ट की रैंकिंग सुधरने लगती है।

ओह, आपके ब्लॉग में बहुत सी पोस्टें हैं किन किन को अपडेट करें?

इसके लिए आप उन पेजों को खोजिए जिनकी रैंक गिर रही है और जिसके कारण आपके ब्लॉग का ट्रैफ़िक घट रहा है। ऐसा करने के लिए आपको Ahrefs positions tracker जैसी सुविधाएँ लेनी पड़ सकती हैं।

किसी पोस्ट को अपडेट करने के लिए किन बातों पर ध्यान दें?

– पुराने पैराग्राफ़ को दुबारा लिखिए
– नयी पोस्टों में पुरानी पोस्टों का लिंक डालिए
– पोस्ट टाइटिल बदलकर उसमें कीवर्ड प्रयोग कीजिए
– पोस्ट स्ल्ग बदलकर उसमें कीवर्ड प्रयोग कीजिए
– पोस्ट के शुरुआती पैराग्राफ़ में कीवर्ड ज़रूर इस्तेमाल कीजिए
– कीवर्ड को कम से कम एक सबहैडिंग में प्रयोग कीजिए
– पोस्ट का मेटाडेटा बदलकर उसमें भी कीवर्ड प्रयोग कीजिए
– उसे आज की तारीख में दुबारा पब्लिश कीजिए
– अपने ब्लॉग के पहले पेज पर डालिए
– अपने ईमेल सब्स्क्राइबर्स को पोस्ट अपडेट की सूचना दीजिए
– पोस्ट अपडेट करने के बाद आप पोस्ट का प्रोमोशन ज़रूर कीजिए
– इसके बाद रैंक बढ़ रही है या नहीं बढ़ रही है, इस पर नज़र रखिए

इस तरह आप पुरानी पोस्ट को अपडेट करके उन्हें दुबारा अच्छी रैंक दिला सकते हैं और उन्हें सदाबहार पोस्ट के रूप में बदल सकते हैं।

उम्मीद है यह लेख आपके काम आएगा और आप अपने प्रश्न करके पूछ सकते हैं।

Keywords – Blog post update, Increase website traffic, Update blog post, Get more visitor