माइक्रो-नीश ब्लॉग क्या है? इससे कैसे कमाएँ?

884

इंटरनेट पर आपको कमाई के अनेक अवसर मिल जाएंगे, और ब्लॉगिंग उनमें से सबसे सही तरीक़ा है। लेकिन ब्लॉगिंग से पैसा कमाने के बारे में बहुत सी भ्रांतियाँ व्याप्त हैं कि दिन-रात बहुत मेहनत करनी पड़ती है। जी हाँ, ये सही भी अगर आप अपना नाम और ब्रांड बनाना चाहते हैं। लेकिन जब आप थोड़ी मेहनत में ज़्यादा समय के लिए पैसा कमाने सोचते हैं तो आपकी इच्छा पूरी करने वाले बहुत से शार्टकट्स हैं। इनमें से एक शार्टकट है कि आप माइक्रो-नीश ब्लॉग (यानि किसी एक विशेष विषय पर लिखा जाने वाला ब्लॉग) बनाएँ।

इस लेख आपको एक माइक्रो-नीश ब्लॉग बनाने का तरीक़ा बताया जाएगा, जिससे आप $150 से ज़्यादा आसानी से कमा पाएंगे। आप इसे माइक्रो-नीश ब्लॉग का ब्लू प्रिंट कह सकते हैं।

माइक्रो-नीश ब्लॉग सेटअप
Setup micro-niche blog

माइक्रो-नीश ब्लॉग के फ़ायदे

आपको बता दूँ कि किसी विशेष टॉपिक पर लिखा जाने वाले ब्लॉग सर्च इंजन में ज़्यादा रैंक प्राप्त करता है। जब आप किसी विशेष टॉपिक पर ओरिजिनल और अथेंटिक कंटेंट के साथ ब्लॉग पब्लिश करते हैं तो वह अपने ही नीश के बढ़िया ब्लॉगों से अच्छी रैंक प्राप्त कर लेता है। साथ ही साथ आप एक सदाबहार ब्लॉग भी बना लेंगे। पूरी मेहनत से ब्लॉग बना लेने के बाद आपको आमदनी होने के बारे में सोचना चाहिए।

अब आप सफलतापूर्वक माइक्रो-नीश ब्लॉग बनाने की जानकारी प्राप्त करेंगे।

1. अपना नीश और डोमेन चुनिए

आपको ब्लॉग उस टॉपिक पर लिखना चाहिए, जिसपर आपकी पकड़ अच्छी हो। लेकिन साथ ही साथ आपको ध्यान रखना होगा कि यह टॉपिक लोगों के बीच और कॉमर्शियली बहुत लोकप्रिय भी होना चाहिए यानि लोग इसके बारे में इंटरनेट पर सर्च भी करते हों। अपने ब्लॉग से कमाई करने के लिए आपको अमेरिकी और यूरोपीय ब्लॉगों से अच्छा ट्रैफ़िक प्राप्त करना चाहिए, इससे आपको सीपीसी ज़्यादा मिलता है।

आप टॉपिक चुनने के लिए SEMRUSH का प्रयोग कर सकते हैं।

2. कीवर्ड रिसर्च करके कंटेंट लिखना

सबसे पहले उस टॉपिक को सर्च कीजिए, जिसके बारे में लोग बहुत समय तक जानना चाहते हैं। आपको इस तरह के टॉपिक के लिए उन कीवर्ड का चयन कीजिए, जिस पर आपको ट्रैफ़िक या फिर सीपीसी ज़्यादा मिल सकता है।

सिर्फ़ ज़्यादा सीपीसी देने वाले कीवर्ड को चुनने के बजाय आपको ऐसा कंटेंट लिखना चाहिए जो ट्रैफ़िक भी खींच सके। इसलिए आपको मालूम होना चाहिए कि जिस टॉपिक को आपने चुना है उसे आप किस-किस तरह प्रयोग कर सकते हैं और उसके फ़ायदे-नुक़सान क्या हैं?

अच्छे से कीवर्ड रिसर्च करने के बाद ही आपको सही जानकारी मिल पाएगी। इस काम के लिए आप SEMRUSH जैसे किसी टूल का प्रयोग कर सकते हैं।

इसके लिए आपको अपने टॉपिक पर लिखे जाने वाले सबसे अच्छे ब्लॉगों की सूची बनानी होगी। ज़्यादा ट्रैफ़िक वाले ब्लॉगों को चुनें। SEMRUSH का प्रयोग करके आप उस साइट पर ट्रैफ़िक पहुंचाने वाली और अधिक आमदनी कराने वाले कीवर्ड्स सर्च कर सकते हैं। इस पर आपको कम से कम 25 पोस्टें लिखनी होंगी।

आपको इस बात का ख़ासा ध्यान देना होगा कि आप एक पोस्ट रोज़ लिखें। धीरे धीरे करके आपकी साइट पर हाई-क्वालिटी पोस्टें हो जायेंगी। इस तरह के टॉपिक पर आपको 4-5 साल तक ट्रैफ़िक दिलाने में क़ामयाब रहते हैं।

3. ब्लॉग सेटअप करना

अगर आपने पहले वर्डप्रेस ब्लॉग बनाया है तो आपको यह काम आसान लगेगा। ब्लॉग बनाने के बाद आपका कंटेंट ही सबकुछ करने वाला है।

इसके लिए आपको कुछ टूल्स की ज़रूरत पड़ने वाली है। इस सूची में प्लगिन, थीम्स और ज़रूरी जानकारियाँ दी गई हैं।

– सबसे पहले आपको वेब होस्टिंग की ज़रूरत पड़ेगी।
– आप एक अच्छी थीम ख़रीदनी होगी।
– कुछ वर्डप्रेस प्लगिन चाहिए होंगे। जैसे –

— Yoast SEO प्लगिन – एसईओ करने के लिए
— Akismet – स्पैम कमेंट से बचने के लिए
— SmushIt – इमेज साइज़ घटाने के लिए
— PubSubHubbub – ब्लॉग पोस्टों को सर्च में जल्दी शामिल कराने के लिए
— JetPack – बहुत से कामों के लिए एक प्लगिन
— WP Super Cache – ब्लॉग की स्पीड बढ़ाने के लिए

4. कुछ ध्यान रखने योग्य बातें

– ब्लॉग को एसईओ परफ़ेक्ट बनाइए
– अच्छी कीवर्ड वाली क्वालिटी पोस्टें तैयार कीजिए
– कुछ पोस्टों के लिए यूटूब वीडियो बनाकर उन्हें अपने ब्लॉग से लिंक कीजिए
साइटमैप को गूगल और बिंग में सबमिट कीजिए
– एक आकर्षक लोगो डिज़ाइन कीजिए

कोशिश करनी चाहिए कि ब्लॉग बनाने में कम से कम मेहनत करनी पड़े और वो कमाई करने के क़ाबिल भी हो जाए। आपको कम मेहनत में सर्च इंजन ट्रैफ़िक लाने वाला काम करना चाहिए, ताकि कमाई शुरु हो सके।

5. सोशल मीडिया प्रोफ़ाइल बनाना

सोशल मीडिया प्रोफ़इल बनाने से आपको फ़ायदा मिलेगा। इसके लिए आपको उस पर अपना कंटेंट नियमित रूप से अपडेट करना होगा। फ़ेसबुक और गूगल+ पर प्रोफ़ाइल बनाकर अपना कंटेंट शेअर कीजिए। इससे आपको शत प्रतिशत ऑर्गैनिक ट्रैफ़िक मिलेगा, जिससे आपके ब्लॉग की सर्च रैंक बेहतर हो जाएगी।

6. ऐडसेंस और एफ़िलिएट मार्केटिंग करना

इसके बाद आप ऐडसेंस विज्ञापन लगा सकते हैं और कुछ समय बाद एफ़िलिएट मार्केटिंग शुरु कर सकते हैं। इसके आपको आमदनी होनी शुरु हो जाएगी।

थोड़े सी लागत खर्च करके आप साल भर में हज़ारों डॉलर्स बना पाएंगे। इस तरह के आप जितने ब्लॉग बना सकते हैं उनसे आपको फ़ायदा ही होगा और कमाई बढ़ती जाएगी।

अगर आप कुछ पूछना चाहते हैं तो आप हमसे सम्पर्क कर सकते हैं।

Keywords – Setup a micro-niche blog, Make money with AdSense, Start affiliate marketing, Keyword research using SEMRUSH