जन सेवा केंद्र खोलने की जानकारी

493

भारत सरकार ने सहज जन सेवा केंद्र की स्थापना करने की सुविधा दी है। यह गांव गांव तक सरकारी सुविधाओं को इंटरनेट के ज़रिए से पहुंचाता है। जन सेवा केंद्र पर आप जन जीवन में काम आने वाले सभी प्रकार के ज़रूरी फ़ॉर्म इंटरनेट के माध्यम से भरे जाते हैं, जैसे – आधार कार्ड, वोटर कार्ड, राशन कार्ड, पेंशन, जन्म प्रमाण पत्र, मृत्यु प्रमाण पत्र, बैंक खाता, जीवन बीमा आदि। इसके अलावा में बहुत तरह के काम जो ऑनलाइन हो सकते हैं, उनकी सुविधा इस केंद्र पर हो सकती है।

सहज जन सेवा केंद्र ज़िले और शहर के हर 5 किमी दूरी पर खोला जा सकता है। जिससे आम लोगों को सभी सरकारी सुविधाओं का पूरा लाभ मिल सके। हर गांव में एक जन सेवा केंद्र खोला जा सकता है।

सहज जन सेवा केंद्र

सहज जन सेवा केंद्र की आवश्यकता

आज बहुत से सरकारी काम ऑनलाइन आसानी से किये जा सकते हैं। इंटरनेट ने आम आदमी के जीवन को नई गति दी है। पहले जानकारी लेना मुश्किल था और सुविधाओं के लिए आवेदन करने में लंबी भीड़ का सामना करना पड़ता था। की गई किसी ग़लती में सुधार की संभावना भी कम होती थी।

आज सजह जन सेवा केंद्र की मदद सभी सरकारी फ़ॉर्म, प्लान और स्कीमों के लिए आवेदन किया जा सकता है।  ऑनलाइन सरकारी शासनादेश देखे जा सकते हैं। ई-गवर्नेंस आम लोगों की सुविधा के लिए सभी तरह की सरकारी सुविधाओं और योजनाओं को इंटरनेट के ज़रिए इन सेवा केंद्रों पर भेजते हैं। बिना भ्रष्टाचार ग़रीब और आम आदमी की सहायता करना ही इस केंद्र की स्थापना का मुख्य उद्देश्य है। अत: इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए सहज जन सेवा केंद्र हर ज़िले, गांव और मोहल्ले में स्थापित किए जा रहे हैं। जिनके ज़रिए हर ग़रीब और ज़रूरतमंद को सरकारी सेवाओं और योजनाओं का लाभ मिल पा रहा है।

सहज जन सेवा केंद्र के फ़ायदे

इंटरनेट का प्रसार बहुत तेज़ी से हो रहा है। आज इसके ज़रिए कई सरकारी सेवाओं, सुविधाओं और योजनाओं का लाभ लिया जा सकता है। जिन्हें इंटरनेट चलाने की जानकारी नहीं है, यह केंद्र उनकी मदद करता है। सभी तरह के सरकारी काम करने और सरकारी काग़ज़ात बनवाने में यह मददगार है। आपको सरकारी ऑफ़िसों के चक्कर नहीं लगाने पड़ने हैं। किसी से अनुरोध नहीं करना पड़ता है। आपका कोई जानने वाला ही आपका काम कर देता है। जिससे समाज में व्याप्त भ्रष्टाचार में कमी आती है। बड़ी बात यह है कि सभी तरह के राज्य सरकार और केंद्र सरकार के फ़ॉर्म के लिए आवेदन कर सकते हैं।

सहज जन सेवा केंद्र कैसे खोलें?

यह राज्य और केंद्र सरकार की योजनाओं और सुविधाओं का एक हिस्सा है। राज्य सरकार के अधिकृत सुविधा केंद्र की मदद आम आदमी सरकारी सुविधा का लाभ ले सकते हैं।

  • प्रत्येक राज्य में केंद्र सरकार द्वारा अधिकृत एक संस्था है जो सहज जन सेवा केंद्र खोलने का अधिकार देती है।
  • 18 वर्ष या उससे अधिक आयु का 12वीं पास कोई भी व्यक्ति इसके लिए पात्र है जिसको कंप्यूटर, इंटरनेट और स्कैनर चलाने की जानकारी होने के साथ-साथ ऑफ़िस खोलने की जगह और अन्य संबंधित सुविधाएं हों।
  • सहज जन सेवा केंद्र खोलने के लिए ज़िला कार्यालय और डीआईसी केंद्र पर संपर्क किया जा सकता है।

अलग अलग राज्यों में नाम भिन्न हो सकते हैं, लेकिन जन सेवा केंद्र के उद्देश्य और समाज में भूमिका एक ही होती है। जिससे हर व्यक्ति सरकारी योजनाओं का लाभ ले पाता है।

जन सेवा केंद्र उत्तर प्रदेश के लिए आवेदन

जो कोई भी जन सेवा केंद्र खोलने का इच्छुक है उसे नीचे दी गई जानकारी जुटा लेनी चाहिए।

आवेदन कर्ता का प्रकार, पिछला, एससीए नाम, सीएससी लोकेशन, राज्य, ज़िला, तहसील, ब्लॉक, कस्बा, ग्राम पंचायत, वार्ड, ग्राम, लोकेशन, पिन कोड

आवेदन कर्ता की जानकारी

आवेदक का नाम, पिता का नाम, माता का नाम, लिंग, वैवाहिक स्थिति, जन्म तिथि, मोबाइल नम्बर, ईमेल आईडी, पूरा पता, पैन कार्ड नम्बर, वोटर आईडी नम्बर, आधार कार्ड नम्बर, शैक्षिक अभिलेख, शैक्षिक अभिलेखों की छाया प्रति

जन सेवा केंद्र, उत्तर प्रदेश सरकार की वेबसाइट – http://www.vayamcsc.com/

Keywords – Sahaj Jan Seva Kendra, Jan Seva Kendra, Common Service Center, UPCSC, UP Jan Seva Kendra, UP Common Service Center, CSC Uttar Pradesh