ब्लॉग के ऑरगैनिक सर्च रिज़्लट्स और इसका महत्व

211

ऑरगैनिक सर्च परिणाम / Organic Search Results किसी वेबसाइट या ब्लॉग के सर्च इंजन / Search Engine पर उपलब्ध परिणाम हैं। इनकी उपलब्धता सर्च शब्दों की प्रासंगिकता पर आधारित होती है इसमें विज्ञापनों के द्वारा सर्च परिणामों को नकार दिया जाता है। नॉन-ऑरगैनिक सर्च परिणाम / Non-Organic Search Results में प्रति क्लिक देय राशि द्वारा विज्ञापनों के परिणाम भी सम्मिलित होते हैं। ऑरगैनिक सर्च परिणाम का आज बहुत महत्व है गूगल पेज रैंक / Google PageRank कि बात हो या एलेक्सा रैंक / Alexa Rank की बात हो सभी ने अपनी एल्गोरिदम / Algorithm इस बात को शामिल कर लिया है। इसके बढ़ते महत्व के चलते हुए मित्रों के अनुरोध पर यह पोस्ट लिखी है। [Ref: Search Engine Users, 2004/2005]

आज गूगल, याहू और बिंग सर्च परिणाम पेज / Google, Yandex and Bing search results page में विज्ञापन और सर्च परिणाम दोनों को शामिल करते हैं। हर स्थिति में विज्ञापन और सर्च परिणाम एक जैसे प्रतीत होते हैं लेकिन पृष्ठ भूमि और उनकी स्थिति के अनुसार कोई भी प्रयोगकर्ता यह आसानी से समझ लेता है कि कौन से विज्ञापन हैं और कौन से सर्च परिणाम हैं। किंतु फिर भी बहुत से सर्च इंजनों पर दोनों प्रकार के परिणाम एक से ही प्रतीत होते हैं जिससे अधिकांश प्रयोगकर्ता उनमें भेद नहीं कर पाते हैं।

Oraganic Search Results, Paid Search Results and SEO
Image taken from Google search

प्यू शोध संस्थान / Pew Research Center के अनुसार आज मात्र 38% प्रयोगकर्ता ही दोनों प्रकार के सर्च परिणामों में भेद कर पाते हैं और सर्च इंजन सबसे ऊपर आने वाले परिणाम अक्सर विज्ञापन होते हैं। सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन / Search Engine Optimizatio, SEO के लिए दोनों प्रकार के परिणामों में भेद कर पाने का ज्ञान बहुत महत्वपूर्ण होता है। सामान्य प्रयोगकर्ता के अनुसार सभी परिणाम ‘वास्तविक परिणाम’ होते हैं, वास्तव में ‘ऑरगैनिक’ (Organic) शब्द का उद्भव वास्तविक सर्च परिणामों को विज्ञापनों से भिन्न करने के लिए हुआ है। इस शब्द का पहली बार प्रयोग इंटर्नेट विचारक ‘जॉन किल्रॉय’ (Internet theorist John Kilroy) ने 2004 में एक पेड सर्च मार्केटिंग लेख (Paid search marketing article) में किया था। क्योंकि ऑरगैनिक और नॉन-ऑरगैनिक सर्च परिणाम (Organic and Non-organic search results) के मध्य का अंतर आज सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन / SEO और वेब मार्केटिंग उद्योग / Web marketing industry में पूरी तरह से अपनी पहचान बना चुका है। जुलाई 2009 में ‘गूगल एनालिटिक्स’ / Google Analytics ने भी इसे अपनाकर इसकी पहचान पर अपनी मुहर लगा दी।

गूगल ऐसा दावा करती है कि उनके अधिकांश प्रयोगकर्ता ऑरगैनिक सर्च परिणामों पर क्लिक करते हैं, जिससे उन्हें भी इस शोध में अपना योगदान देना पड़ा। गूगल के द्वारा 2012 में किये गये अध्ययन के अनुसार 81% विज्ञापन इम्प्रेशन / Ad impressions और उनपर 66% क्लिक उनके पहले सर्च पेज पर ऑरगैनिक सर्च परिणामों से समबद्ध नहीं होते हैं।[Ref: New research: Organic search results and their impact on search ads]

यदि 1997 से पहले की बात की जाये तो प्यू शोध संस्थान ने यह दर्शाया था कि प्रयोगकर्ता सर्च के दौरान विज्ञापनों पर क्लिक करने से कतराते हैं।

प्रयोगकर्ता चाहें तो सर्च परिणामों के दौरान दिखने वाले विज्ञापनों पर विभिन्न ब्राउज़र प्लगिन्स / Web browser plugins द्वारा प्रतिबन्ध लगा सकते हैं ताकि सर्च में केवल ऑरगैनिक सर्च परिणाम ही प्राप्त हों। विभिन्न ब्राउज़र पर विज्ञापन बंद के लिए अलग-अलग प्लगिन्स / Plugins उपलब्ध हैं।

Google Organic Search Improve करने के लिए आप Google SEO Guide Download कर सकते हैं।

Keywords: organic search results definition, what does organic search results mean, organic search seo, organic search results google, get better organic search results, optimize organic search, improve organic search results, organic and inorganic search results, natural search