क्या नए ब्लॉग पर ऐडसेंस ऐड लगाने चाहिए?

468

क्या आपका कोई ब्लॉगर मित्र अपने नए ब्लॉग पर ऐडसेंस ऐड लगाने को लेकर कंफ़्यूज़ है? अगर हाँ तो आप उसका कंफ़्यूज़न दूर कर सकते हैं। ब्लॉगिंग के शुरुआती दिनों में बहुत से ब्लॉग रीडर मुझसे शिक़ायत करते थे कि आपके ऐड लगाने से उन्हें ब्लॉग पढ़ने में दिक़्क़त होती है या विज्ञापन उन्हें ब्लॉग पर अच्छे नहीं लगते हैं या वो कहते थे कि ब्लॉग का लुक बिगड़ रहा है। इसलिए मैंने साइट से विज्ञापन हटा दिए थे। इसके अलावा भी कई कारण हो सकते हैं, जो आपको अपने नए ब्लॉग से पैसा कमाने से रोकते हैं।

मेरे ब्लॉगर मित्र हैं, जिनके पास एप्रूव्ड ऐडसेंस एकाउंट है लेकिन वो अपने ब्लॉग पर उसे प्रयोग नहीं कर रहे हैं? उनका मानना है कि अगर आप ब्लॉग पर विज्ञापन लगाते हैं कि तो आपके रीडर्स को आपको पैसा कमाने वाला समझते हैं। लेकिन वो प्लानिंग कर रहे हैं कि ब्लॉग पर ट्रैफ़िक बढ़ते ही विज्ञापन लगाए जायें। पता नहीं, क्या ट्रैफ़िक बढ़ने बाद ऑडियंस की सोच में इतना फ़र्क कैसे आएगा?

नए ब्लॉग पर ऐडसेंस
Google AdSense on New Blog

नए ब्लॉग पर ऐडसेंस ऐड

क्या आप भी अपने नए ब्लॉग पर ऐडसेंस ऐड लगाने से झिझक रहे हैं? क्या आप भी अपने ब्लॉग रीडर्स की सोच जानने में इच्छुक हैं?

नए ब्लॉग से पैसे कमाने से देरी क्यों की जाए? ब्लॉग से पैसे कमाने की इच्छा आपको लालची या कम अच्छा ब्लॉगर नहीं बनाती है। बल्कि यह एक मौक़ा है जिससे आप अपना शौक़ पूरा करते करते कमाई भी कर सकते हैं। आप ख़ुद ही बताएँ कि इसमें शर्म की क्या बात है?

अगर आपके पास कोई ब्लॉग है, जिससे पैसा कमाया जा सकता है तो इस मौक़े को अपने हाथ से मत जाने दें। क्योंकि जो भी आमदनी होगी वह आपके ब्लॉग चलाने और दूसरे खर्च में काम आएगी।

विज्ञापन क्या है और अपने ब्लॉग से पैसा कमाना क्यों सही है?

अगर विज्ञापन आपके ब्लॉग से संबंधित है और आपके रीडर्स उन्हें ख़रीदकर लाभ उठा सकते हैं तो आप उन्हें साइडबार, हेहर या फिर दूसरी किसी जगह लगाएँ।

तकनीक द्रष्टा ब्लॉगिंग, ऑनलाइन कमाई और वेबहोस्टिंग के बारे में लिखा जाने वाले ब्लॉग है। जिस पर विज़िटर्स हमारे पर्सनल रिव्यू और अनुभव पढ़ सकते हैं। हमारे पाठक जानना चाहते हैं कि उनके लिए क्या अच्छा है और किन प्रोडक्ट्स से उनको ब्लॉगिंग में फ़ायदा मिल सकता है। इसलिए हम अक्सर अपनी साइडबार और ब्लॉग पोस्ट में ज़रूरी लिंक्स देते हैं। साथ ही हम गूगल कंटेक्स्चूअल ऐड का फ़ायदा भी ले रहे हैं।

नए ब्लॉग पर ऐडसेंस से पैसा कमाने का निर्णय आपका है, इसमें कुछ भी सही या ग़लत नहीं है। इसलिए ज़्यादा विचार करने की ज़रूरत नहीं है। कुछ रीडर्स के बारे में सोचकर आप अपना बड़ा फ़ायदा बड़ा फ़ायदा मत छोड़ें। आपको जब लगे कि ब्लॉग से कमाई शुरु की जा सकती है, तबसे हाथ पैर मारने शुरु कर दीजिए। लेकिन ब्लॉग पेज को विज्ञापनों से भर देने की ज़रूरत नहीं है। विज्ञापन कम ही लगाइए मगर वही लगाइए जिनसे आपको ज़्यादा समय तक ज़्यादा फ़ायदा हो। साथ ही कम विज्ञापन लगाने से आपको अच्छा सीटीआर भी मिलेगा।

इसलिए अगर ऐडसेंस एकाउंट एप्रूव हो चुका है तो आपको ब्लॉग पर कुछ यूनिट ज़रूर लगानी चाहिए। ब्लॉग में कितनी ऐडसेंस ऐड यूनिट लगाने हैं, इसकी जानकारी करने के लिए भी हम पोस्ट लिख चुके हैं। अगर आप अच्छा लिखेंगे, अपनी आडियंस बनाएंगे और हो सकता है कि आप ब्लॉग लिखकर ही अपनी आजीविका चला सकते हैं।