नेगटिव एसईओ की शिकार वेबसाइट को पहचानें

My previous post was about Negative SEO, reasons and its bad effects. To make sure your website or blog is a victim of Negative SEO, you can use number of tools available online. It might be difficult sometimes to identify your blog is affected by Negative SEO but you have to give some time to explore it because business should always show graph of growth and profit. Google Analytics, Webmater Tools, Ahrefs.com, SEMrush, MajesticSEO, Copyscape and some other tools can help you to keep eyes on SEO health of your website. If you’re not able to do it all by yourself then you can hire an expert from your neighborhood.

अभी पिछली पोस्ट में आपने नेगटिव एसईओ, कारण और उसके प्रभाव के बारे में पढ़ा है। अगर आपकी वेबसाइट या ब्लॉग नेगटिव एसईओ का शिकार हो गयी है तो आपको यह पता करने में मुश्किल हो सकती है। आज अनेक ऑनलाइन टूल्स उपलब्ध हैं जिनका प्रयोग करके आप संकट की स्थिति का पत लगा सकते हैं इसलिए आज हम आपको नेगटिव एसईओ को पता करने की कुछ सामान्य टिप्स देंगे।

अन्य सम्बंधित कड़ियाँ:
नेगटिव एसईओ से बचाव और सुरक्षा के उपाय
नेगटिव एसईओ के हमले की रोकथाम कीजिए

Find out negative SEO

आपकी वेबसाइट का ट्रैफ़िक अचानक कम हो जाये
Abrupt Search Traffic Fall

अगर आपने गूगल वेबमास्टर टूल में बतायी गयी बातों का पालन पूरी तरह से किया है और इसके बाद भी आपकी वेबसाइट का ट्रैफ़िक लगातार कम हो रहा है तो इसका सीधा सा मतलब है कि आपकी वेबसाइट नेगटिव एसईओ का शिकार है। इसलिए अपनी वेबसाइट के ट्रैफ़िक में होने वाले बदलावों पर कड़ी नज़र रखनी चाहिए। अपनी वेबसाइट के ट्रैफ़िक में होने वाले बदलावों पर गूगल एनालिटिक्स, गूगल वेबमास्टर टूल्स, सर्चमेट्रिक्स आदि के द्वारा नज़र रख सकते हैं।

गूगल एनालिटिक्स का प्रयोग
Use Google Analytics

– गूगल एनालिटिक्स में जाकर अपनी वेबसाइट खोलिए
– बायीं साइडबार में एक्विज़िशन “Acquisition” पर क्लिक कीजिए
– यहाँ आल ट्रैफ़िक “All Traffic” पर क्लिक करके ट्रैफ़िक में होने वाले बदलाव देखे जा सकते हैं

गूगल वेबमास्टर टूल्स का प्रयोग
Use Google Webmaster Tools

– गूगल वेबमास्टर टूल्स में लॉगिन कीजिए
– ओपन कैम्पेन “Open Campaign” पर क्लिक कीजिए
– फिर सर्च ट्रैफ़िक “Search Traffic” पर क्लिक कीजिए
– अब सर्च क्वेरीज़ “Search Queries” पर क्लिक कीजिए

ऐसा करने से आपके सामने एक ग्राफ़ आ जायेगा जिसमें आप यह देख सकते हैं कि क्या आपकी साइट का ट्रैफ़िक घट रहा है?

बैकलिंक का आडिट कीजिए
Do Back Audit

स्पैमर आपकी साइट के लिए कम महत्व के लो क्वालिटी लिंक “Low quality link” बना सकते हैं। बैकलिंक आडिट करके आप अपनी वेबसाइट के नेगटिव एसईओ को आसानी से जाँचकर पता लगा सकते हैं। गूगल एनालिटिक्स, एएचरेफ़्स और ओपन साइट एक्सप्लोरर का प्रयोग करके पता किया जा सकता है कि क्या कोई आपकी साइट के लिए स्पैमी लिंक बना रहा है?

गूगल वेबमास्टर का प्रयोग
Use Google Webmaster Tools

गूगल वेबमास्टर टूल्स का प्रयोग करके अपनी साइट के लिए नये लिंक्स डाउनलोड किये जा सकते हैं।

– वेबमास्टर टूल्स में जायें
– सर्च ट्रैफ़िक “Search traffic” के अंतर्गत लिंक्स टू योर साइट “Link to your site” पर क्लिक कीजिए

यह करके आप वेबसाइट के सभी इनबाउंड लिंक्स “Inbound links” पता कर सकते हैं।

– हू लिंक्स द मोस्ट “Who links the most” के अंतर्गत मोर “More” विकल्प पर क्लिक करके आपकी साइट को लिंक करने वाली साइटों की लिस्ट प्राप्त कीजिए
– हाऊ योर डेटा इस लिंक्ड “How your data is linked” के अंतर्गत अपनी साइट से बहुत अधिक बार लिंक होने वाले पेजों को देख सकते हैं।

इन दोनों ही रिपोर्ट्स को डाउनलोड करके कम महत्व की वेबसाइट और लम्बे एंकर टेक्स्ट “Long anchor text” का पता किया जा सकता है।

एएचरेफ़्स का प्रयोग
Use Ahrefs.com

– ahrefs.com के सर्च बॉक्स में अपना पूरा डोमेन नेम भरिए
– इनबाउंड लिंक “Inbound link” के अंतर्गत लिंक्स “Links” पर क्लिक कीजिए

ऐसा करके आप सभी लिंक्स की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं और आपको जाँच परख करने के लिए बहुत-सा डेटा मिल जायेगा।

Referring Page URL - Ahrefs.com
Ahrefs.com का प्रयोग करके रेफ़्रिंग पेज यूआरएल देखना

ऐसे लिंक्स खोजिए जो किसी डोमेन पर जोड़े गये हैं लेकिन इंडेक्स “Index” नहीं किये जाते हैं। मालवेयर चेतावनी “Malware warnnings” वाली वेबसाइटें, लिंक्स फ़ार्म्स या शून्य पेज रैंक वाली साइटों की जानकारी भी प्राप्त कीजिए।

कृत्रिम आइपीज़ की जाँच कीजिए
Find out Unnatural IPs

यदि आपकी साइट और उसकी मार्केट या पाठक किसी निश्चित देश, विदेशी आइपीज़ या टीएलडीज़ “Foreign IPs and TLDs” से हैं और आपकी साइट पर निर्देशित नहीं हैं तो इन विदेशी आइपीज़ को जाँचिए और सुनिश्चित कीजिए कि आपकी साइट पर डोमेन की बजाय किसी आइपी से ही अनेक लिंक बनाये गये हैं।

एसईएमरश “SEMrush” का प्रयोग इन आइपीज़ “IPs” को पता करने के लिए किया जा सकता है।

– सर्चबॉक्स में अपनी साइट का डोमेन भरिए और कीबोर्ड पर इंटर बटन दबाइए
– इसके बाद बायीं तरफ़ दिये बैकलिंक्स “Backlinks” पर क्लिक कीजिए
– अब ड्रापडाउन से रेफ़्रिंग आइपीज़ “Referring IPs” का पता लगाइए

Referring IPs - SEMrush
SEMrush का प्रयोग करके रेफ़्रिंग आइपीज़ देखना

ड्यूपलिकट कंटेंट की पता कीजिए
Find out Duplicate Content

आप वेब पर अपनी साइट पर प्रकाशित लेख, फ़ोटो व अन्य सामग्री की ड्यूप्लिकट कापीज़ “Duplicate copies” का पता कीजिए। अपनी साइट पर प्रकाशित सामग्री के ड्यूप्लिकट कापीज़ का पता कापीस्केप “Copyscape” जैसे टूल्स से किया जा सकता है। इसके लिए आपको कापीस्केप की साइट पर सर्च बॉक्स में अपनी वेबसाइट का पता भरना होता है और आपके निर्देश पर वेब पर आपकी सामग्री की ड्यूप्लिकेट कापीज़ खोज निकालता है।

इस उम्मीद में इस पोस्ट को समाप्त कर रहा हूँ कि आप इस पोस्ट का लाभ उठायेंगे और अपने मित्रों को इस बारे में बताकर उनकी वेबसाइटों और ब्लॉगों की नेगटिव एसईओ से रक्षा करेंगे।

Combat Negative SEO, Recover from Negative SEO, Protect your site from Negative SEO, Prevent Negative SEO, negative seo attack, negative seo tactics, negative seo techniques, negative seo fiverr, negative seo services, negative seo matt cutts, negative seo illegal, negative seo backlinks