ब्लॉग कमेंट करने में होने वाली 5 प्रमुख गलतियाँ

146

अन्य ब्लॉगरों के ब्लॉग पर कमेंट करके आप आसानी से बैकलिंक कमा सकते हैं। यदि आपके ब्लॉग अधिक डू-फ़ॉलो बैकलिंक रखेगा तो इसकी पेज रैंक उतनी ही अच्छी हो जायेगी। गूगल डू-फ़ॉलो बैकलिंक प्राप्त करने किसी भी ब्लॉग को अच्छे ब्लॉगों की श्रेणी में रखता है।

इसलिए पहले उन ब्लॉगों की खोज कीजिए जहाँ से डू-फ़ॉलो बैकलिंक आसानी से प्राप्त किये जा सकते हैं और जिन ब्लॉग पर कमेंट करने पर आपके ब्लॉग का पता कमेंट में छूटता है। बड़े ही खेद का विषय है कि गूगल ब्लॉगर टिप्पणी करने पर आपके ब्लॉग पते को कमेंट पर प्रदर्शित नहीं करता। यदि आप कमेंट में अपने ब्लॉग पते को डाल दें तो वह आपको डू-फ़ॉलो बैकलिंक न देकर नो-फ़ॉलो बैकलिंक देता है। इसी प्रकार अब वर्डप्रेस पर बने ब्लॉग भी नो-फ़ॉलो बैकलिंक ही देते हैं। पर चिंता की कोई बात नहीं है आप डू-फ़ॉलो बैकलिंक देने वाले ब्लॉगों की खोज “www.dropmylink.com” पर कर सकते हैं। यह बिल्कुल ही नि:शुल्क सेवा है जिस पर आपको न तो खाता बनाने की आवश्यकता है और पैसे चुकाने की।

blog comment mistakes

5 प्रमुख ब्लॉग कमेंट ग़लतियाँ

लेकिन ऑफ़ पेज एस ई ओ में हुए नियम परिवर्तनों के चलते मात्र टिप्पणियों से प्राप्त डू-फ़ॉलो बैकलिंक ही पेज रैंक बढ़ाने के लिए काफ़ी नहीं है। आपके द्वारा की गयी टिप्पणियों में प्रयोग की गयी शानदार शब्दावली का भी अपना महत्व है। इसका मतलब सिर्फ़ इतना ही है कि ब्लॉग पोस्ट से जुड़ी संगत टिप्पणियाँ ही दें और विषय से न भटकें। इसके लिए आपको नीचे दी जा रही 5 ग़लतियों से बहुत दूर रहना होगा।

छोटे-छोटे कमेंट

अब कुछ शब्दों और एक-दो वाक्यों में किये गये कमेंट महत्वहीन हैं। इसलिए सिर्फ़ कमेंट करने मात्र के लिए कमेंट करना छोड़ दीजिए। ब्लॉगिंग के प्रारम्भिक युग में ये सब सही था। लेकिन अब एक-दो वाक्यों में किये गये कमेंट पर गूगल अपनी नज़र तक नहीं डालता है और न ही वे ब्लॉगर डालते हैं जो आपकी टिप्पणियाँ पढ़कर आपसे प्रभावित हो सकते हैं।

उबाऊ और लम्बे कमेंट

बहुत से लोग यह ग़लती दोहराते हैं। वे बिना सोचे जो मन में आये लिख देते हैं। इसलिए वे लम्बे और उबाऊ कमेंट करते हैं। इसके कभी-कभी वो ब्लॉग की ही कुछ लाइनों को कापी-पेस्ट करते हैं। इस कारण ब्लॉग लेखक कमेंट को पूरा न पढ़कर, कमेंट की कुछ पंक्तियाँ पढ़कर कमेंट के स्तर का मूल्यांकन करता है। वह कमेंट को ब्लॉग को हटा देने में ही समझदारी समझता है, जिससे उसके समय की बचत होती है।

असम्बंधित व्यर्थ कमेंट

किसी पोस्ट को पढ़कर आपको उसपर कमेंट करने चाहिए। यदि आप पोस्ट के अनुसार कमेंट नहीं करते हैं तो यह प्रदर्शित करता है कि आप पृष्ठ पर पोस्ट पढ़ने नहीं अपना मतलब सिद्ध करने आये थे। यह पोस्ट लेखक का नहीं अपितु आपका स्वयं का उल्लू बनाते हैं। तो महत्वहीन और असम्बंधित कमेंट करने से बचना चाहिए जिससे पोस्ट लेखक की आपके प्रति रुचि उत्पन्न हो और वह आपके बारे अधिक जानने की इच्छा करे।

ओवर-स्मार्ट कमेंट

बहुत से लोग कमेंट में पोस्ट का सार ही लेखक को आकर्षित करने के लिए लिख देते हैं। यह काम पहले लोगों को बहुत पसंद आया लेकिन आज के लेखक आपकी इन चालाकियों से भली भाँति परिचित हैं। एक समझदार ब्लॉगर आपके कमेंट को फ़ौरन हटा देगा क्योंकि वह अपने विचारों को आपके शब्दों में कभी नहीं स्वीकार करेगा। जिससे आपके द्वारा टिप्पणी लिखने में लगाया जाने वाला समय बेकार ही चला जायेगा।

चापलूसी भरे कमेंट

कभी भी किसी पोस्ट की प्रशंसा में अतिशयोक्ति मत कीजिए। यह लेखक को ऐसा लग सकता है कि आपने ऐसा कमेंट सिर्फ़ एक बैकलिंक पाने के लिए किया है। तो बहुत सम्भलकर पोस्ट को पूरी तरह समझकर उसकी अच्छाई और बुराई की चर्चा कमेंट में लिखिए।

इस प्रकार 5 महत्वपूर्ण कमेंट करने में की जाने वाली ग़लतियों की चर्चा हमने पूर्ण की और जाना कि उन्हें किस प्रकार से सुधारा जाये। इसलिए कमेंट करते समय इन बिंदुओं को सदैव ध्यान रखिए और एक दिन आप अच्छे कमेंट करके अपने ब्लॉग पर अच्छी संख्या में पाठक जमा कर पायेंगे।

Keywords: Comment Mistakes, top comment mistakes, blog comment mistakes