ऐडसेंस कमाई बढ़ाने के 50 टिप्स

389

आपने बहुत बात सुना होगा कि ऐडसेंस बेस्ट ऐड नेटवर्क है। साथ ही और भी नेटवर्क हैं जो ऐडसेंस की तरह ही अच्छी कमाई कराते हैं। लेकिन फिर भी ऐडसेंस कमाई के मामले में काफ़ी अच्छा है। मैं ऐडसेंस का प्रयोग का प्रयोग बहुत समय से कर रहा हूँ, और मेरा ऐडसेंस रेवेन्यू बढ़ रहा है।

ऐडसेंस सेक्शन टारगेटिंग, कम सीपीसी वाली एड कैटेगरी को हटाने, ऐड ब्लैकलिस्ट और बहुत से फ़ीचर्स देता है, जिन्हें ऐडसेंस पब्लिशर्स प्रयोग करके अपनी आमदनी बढ़ा सकते हैं।

ऐडसेंस कमाई बढ़ाने के टिप्स

हम पहले भी आपको ऐडसेंस रेवेन्यू बढ़ाने के कई तरीके बता चुके हैं। आज हम आपको ऐसी ही 50 टिप्स बताने वाले हैं, जिन पर ध्यान देकर कोई भी ब्लॉगर अपनी ऐडसेंस कमाई बढ़ा सकता है।

ऐडसेंस कमाई के लिए उपाय
Make money use AdSense

ध्यान देने की बात है कि ऐडसेंस सभी के लिए एक जैसा काम नहीं करता है, इसलिए ब्लॉगर्स को नए प्रयोग करके वह बेस्ट उपाय करना चाहिए; जिससे उसकी इनकम बढ़ जाए। बहुत से ब्लॉगर सुनी सुनाई बातों पर यक़ीन कर लेते हैं और फिर कम आमदनी की शिक़ायत करते हैं। अगर आप भी उनमें से एक हैं तो ऐडसेंस कमाई बढ़ाने के ये टिप्स आपके लिए हैं:

1. उस टॉपिक पर ब्लॉग लिखें जिस पर ऐडसेंस कमाई अच्छी हो।

2. ऐडसेंस पॉलिसी का पूरा ध्यान रखें।

3. पोस्ट लिखते समय कीवर्ड का पूरा ध्यान रखें।

4. पोस्ट में कीवर्ड डेंसिटी 2.5% से अधिक न रखें।

5. पेज के ऊपरी भाग (एबव द फ़ोल्ड) में ऐड यूनिट का प्रयोग करें।

6. इमेज और टेक्स्ट ऐड को साथ-साथ प्रयोग करें।

7. एडसेंस फ़ॉर सर्च का प्रयोग करें।

8. पेज लेवल ऐड्स का प्रयोग करें।

9. मैच्ड कंटेंट का प्रयोग करें।

10. नॉन-स्टैंडर्ड ऐड्स का प्रयोग करें।

11. प्रयोग करके अपने ब्लॉग के लिए सही ऐडसेंस फ़ार्मेट चुनें।

12. कस्टम टेक्स्ट ऐड स्टाइल प्रयोग करके अपनी थीम के अनुसार कलर स्कीम चुनें।

13. एक से अधिक ऐड यूनिट प्रयोग करें।

14. ऐडसेंस पर मल्टीपल पैलेट्स का प्रयोग करें।

15. होरिज़ोनटम लिंक यूनिट को नैवबार के नज़दीक़ लगाएँ। अब आप रिस्पांसिव लिंक यूनिट प्रयोग करें।

16. ऐड को सही लोकेशंस पर लगाएँ और कभी कभार एक्सपेरिमेंट करने न चूकें।

17. जिन लोकेशंस पर अर्निंग कम होती है, वहाँ इमेज ऐड्स ही प्रयोग करें।

18. ऐड यूनिट से बार्डर हटा दें।

19. वेबपेज पर अधिक एक्स्टर्नल लिंक न रखें।

20. एक से अधिक ऐड यूनिट बनाएँ।

21. ऐडसेंस के नए फ़ीचर्स को भी प्रयोग करें।

22. कंटेंट के साथ सही ऐड यूनिट का चुनाव करें।

23. ऐड प्लेसमेंट के साथ उसकी विज़िब्लिटी का भी ध्यान दें।

24. सेक्शन टारगेटिंग का प्रयोग करना न भूलें।

25. लिंक यूनिट को ऐसी लोकेशंस पर लगाएँ, जिससे उन्हें विज़िटर्स देख सकें।

26. टार्गेटेड ट्रैफ़िक तैयार करें।

27. एसईओ और बैकलिंक से वेब ट्रैफ़िक बढ़ाएँ।

28. ऐडवर्ड टूल्स की सहायता से ब्लॉगिंग करें।

29. ऐडसेंस चैनेल के प्रयोग से ऐड पर्फ़ामेंस की जांच करिए।

30. अपने ऐड्स को ट्रैक करते रहिए।

31. कम सीपीसी देने वाले ऐडवर्टाइज़र्स को ब्लॉक कर दीजिए।

32. ऐड्स को ज़्यादा ब्लॉक भी मत कीजिए।

33. ऐडसेंस प्रिव्यू टूल्स का प्रयोग करें।

34. मेड फ़ॉर ऐडसेंस साइट से बचें।

35. छोटे आर्टिकल्स के ऊपर विज्ञापन लगाएँ।

36. लम्बे आर्टिकल्स के बीच में विज्ञापन लगाएँ।

37. सामान्य ब्लॉग शब्दों को प्रयोग न करें।

38. ऐडसेंस को दूसरे विकल्प के रूप में प्रयोग न करें।

39. नए कंटेंट को पब्लिश कीजिए।

40. हब पेजेज़ पर अकाउंट बनाकर अपना ऐडसेंस अकाउंट प्रयोग कीजिए।

41. बुकीज़ा पर अकाउंट बनाकर अपना ऐडसेंस अकाउंट प्रयोग कीजिए।

42. डॉक्स्टॉक पर अकाउंट बनाकर अपना ऐडसेंस अकाउंट प्रयोग कीजिए।

43. रेवेन्यू शेअरिंग साइट का प्रयोग कीजिए।

44. यूटूब पार्टनर साइट को ज्वाइन कीजिए।

45. पब्लिक सर्विस ऐड का प्रयोग म कीजिए।

46. ऐडसेंस यूनिट के आसपास कोई भ्रामक लाइन न लिखें।

47. ऐडवर्ड द्वारा अपना ब्लॉग प्रोमोट कीजिए।

48. रिस्पांसिव ऐड का प्रयोग कीजिए।

49. मोबाइल साइट पर 320*100 आकार के ऐड्स का प्रयोग पोस्ट टाइटल के नीचे करें।

50. मोबाइल पेज पर एक साथ दो ऐड मत दिखाएँ।

उम्मीद है कि ऐडसेंस कमाई बढ़ाने के लिए ये 50 टिप्स आपके काम आयेंगी। नए ब्लॉगर्स को सीटीआर, सीपीसी और कस्टम चैनेल्स के बारे में जानकारी रखनी चाहिए। इससे ऐडसेंस अकाउंट को मैनेज करने और रिपोर्ट को समझने में हेल्प मिलेगी। साथी ही आप ऐडसेंस को ऐनालिटिक्स के साथ जोड़कर यह भी पता कर सकते हैं कि कौन से पेज और कीवर्ड आपकी साइट को फ़ायदा पहुंचा रहे हैं।

आप अपने अनुभव भी मेरे और मेरे रीडर्स के साथ शेअर कर सकते हैं।