ऐडसेंस हीटमैप – विज्ञापन लगाने की सही जगह और ज़्यादा सीटीआर

जब कभी हम ऐडसेंस सीपीसी बढ़ाने की बात करते हैं, आप ज़रूर एक कॉमन शब्द हीटमैप के बारे में सुनते हैं। इस आलेख में आपको ऐडसेंस हीटमैप के बारे में जानकारी मिलेगी ताकि आप अपनी साइट पर ऐडसेंस एड यूनिट को सही स्थान पर लगाकर अधिक क्लिक प्राप्त कर सकें।

ऐडसेंस हीटमैप ज़्यादा सीटीआर
AdSense Heatmap for Higher CTR

गूगल ऐडसेंस ब्लॉगिंग द्वारा कमाई करने का सबसे ज़बरदस्त ज़रिया है, लेकिन समस्या वही है कि कहाँ विज्ञापन लगाया जाए ताकि कमाई के लिए रास्ते खुल जाएँ। कोई भी ब्लॉगर अपनी ब्लॉग पोस्ट के साथ कमप्रोमाइज़ नहीं करना चाहेगा, इसलिए वह अच्छे से अच्छा कटेंट बनाएगा। जब भी पोस्ट के बीच में बिना सोचे समझे विज्ञापन लगाए जाते हैं, पाठक उनसे विचलित हो जाते हैं। गूगल पांडा जबसे आया है, तब से लोग कंटेंट के नज़दीक़ कम विज्ञापन लगा रहे हैं। साथ ही एबव द फ़ोल्ड में विज्ञापन से अच्छी कमाई के आसार बनने लगे हैं।

गूगल भी अधिक सीटीआर पाने के लिए एबव द फ़ोल्ड _ Above the fold विज्ञापन यूनिट लगाने की सलाह देता है। आइए अपने मक़सद की ओर बढ़ते हैं और ऐडसेंस एड यूनिट को ऐसी जगह लगाने के बारे में जानते हैं, जहाँ क्लिक होने की संभावना बहुत अच्छी हो। ताकि आपको अच्छा कनवर्ज़न मिल सके। इसलिए आपाको ऐडसेंस हीटमैप के बारे में पता हो चाहिए।

ऐडसेंस विज्ञापनों को सही स्थान पर लगाकर आप अपने ब्लॉग का ट्रैफ़िक दोगुना कर सकते हैं। विज्ञापनों को इस प्रकार लगाना चाहिए कि पाठक उनसे विचलित न हों। उन्हें आपकी ब्लॉग पोस्ट पढ़ते समय कोई कंफ़्यूज़न न हो। आप थोड़ी सी समझदारी दिखा अपनी ऐडसेंस कमाई को दोगुना कर सकते हैं।

ऐडसेंस हीटमैप चित्र

Official AdSense Heatmap
ऐडसेंस हीटमैप – ज़्यादा गहरा रंग यानि ज़्यादा सीटीआर

कई फ़ोरम्स के डिस्कशन के बाद हमने एक गाइड तैयार की है, जिससे आप ऐडसेंस रेवेन्यू बढ़ा सकते हैं। आइए पहले गूगल के आधिकारिक हीटमैप पर नज़र डालते हैं। इसे देखकर ही आपको पता चल जाएगा कि कहाँ पर विज्ञापन लगाकर बिना यूज़र एक्सपीरियंस गंवाएँ आप अच्छी कमाई कर सकते हैं।

इस बात में कोई दो राय नहीं है कि गैर टेक्नोलॉजी ब्लॉग से दोगुनी कमाई होती है, क्योंकि टेक्नोलॉजी ब्लॉग के रीडर्स विज्ञापनों और उनके प्लेसमेंट से भली भांति परिचित होते हैं, इसलिए वे सामान्य विज्ञापनों को अनदेखा कर देते हैं। वहीं दूसरी ओर लाइफस्टाइल, कुकिंग, हेल्थ, डेटिंग, एस्ट्रोलॉजी वाले ब्लॉग से अधिक कमाई होने कारण पाठकों की विज्ञापनों के बारे में अनभिज्ञता है।

एक दूसरा फैक्ट भी है कि टेक्नोलॉजी ब्लॉग पढ़ने वाले पाठक आर्टिकल पढ़ने के सम्मान में किसी रुचिकर विज्ञापन पर क्लिक करते हैं। जब कभी आप किसी पेज पर विज्ञापन लगाएँ तो इन बातों पर गौर करें।

– आपका रीडर ब्लॉग क्यों पढ़ता है?
– ब्लॉग पोस्ट या विज्ञापन क्या ज़्यादा ज़रूरी है?
– पाठकों को बिना परेशान किए विज्ञापन कहाँ लगाएँ तो आमदनी बढ़ जाए?

स्मार्ट वर्क

आप सोचते हैं कि अच्छी पोस्टें लिखकर आर्गैनिक ट्रैफ़िक अधिक मिल सकता है, जिससे आमदनी बढ़ सकती है। लेकिन अपने विज्ञापनों को सही जगह पर लिखकर अगर पोस्ट प्रकाशित की जाए तो ट्रैफ़िक भी बढ़ेगा और आमदनी भी।

एड यूनिट प्लेसमेंट

विज्ञापन लगाने से पहले ये तो जान लीजिए कि ऐडसेंस की कितनी यूनिट लगाई जा सकती हैं। पोस्ट की शुरुआत में लगाई गई टेक्स्ट यूनिट पर अधिक सीटीआर मिलता है।

– आप मीडिया.नेट विज्ञापनों को कंटेंट के बीच में लगाकर बेहतर कमाई कर सकते हैं। इससे ऐड यूनिट बिल्कुल भी विज्ञापन की तरह नहीं लगती है। लेकिन ऐसे मामलों में कीवर्ड को लेकर बहुत सतर्कता बरतनी चाहिए।
– पोस्ट के टाइटल के ऊपर लगे विज्ञापनों पर ज़्यादा सीटीआर मिलता है।
– अगर आप कमाई करने पर ज़्यादा ध्यान लगा रहे हैं तो कंटेंट के बीच में लिंक यूनिट लगाकर देखें।
– गूगल सर्च यूनिट से भी कमाई होती है, इसके लिए ये सर्च बॉक्स उस जगह लगाएँ, जहाँ पर पाठक उसको हमेशा एक्सेस कर सके।

पढेंबिना गूगल ऐडसेंस के ऑनलाइन कमाई करने के रास्ते

कुछ दूसरी जगहें जहाँ आपको ज़्यादा सीटीआर मिल सकता है:

– पोस्ट के ऊपर
– साइडबार में ऊपर
– साइडबार वीडियो यूनिट (अब उपलब्ध नहीं)

इसलिए मैं आपको सलाह देता हूँ कि बिना रीडर्स को परेशान किए आप ऐड यूनिट का स्मार्ट मैनेजमेंट करें। ताकि आप अपनी वेबसाइट की खाली जगह पर विज्ञापन लगा सकें। एक दूसरी पोस्ट आपको ऐडसेंस रेवेन्यू बढ़ाने की जानकारी देगी वो है – गूगल कस्टम सर्च यूनिट।

अगर आप हीटमैप इस्तेमाल कर रहे हैं या करना चाह रहे हैं, तो अपने अनुभव हमारे साथ शेअर करना मत भूलें।

Keywords – AdSense Heatmap, AdSense CTR, AdSense Tips, AdSense Ad Placement, Better CTR