एक ब्लॉग व वेबसाइट के बीच क्या अंतर है?

10 Difference between a blog and website. एक ब्लॉग चर्चा करने या सूचना देने की अंतर्जाल पर छपने वाली एक साइट होती है और इसमें असतत प्रविष्टियाँ होती हैं जिन्हें पोस्ट कहा जाता है, इसमें छपने वाली पोस्टे सामान्यत: उल्टे क्रम में होती हैं यानि नयी प्रविष्टियाँ मुख्य पृष्ठ पर सबसे पहले होती हैं।

Blog is continuously updating web system via posts while website is a static page which does not updated by company frequently until it is necessary to reflect new product, services and changes. Blog have feed system while website works most on sitemap to show entire pages. Blog shows advertisement to earn but website generally does not show advertisement for earning. Blog have comment system for readers’ remarks while websites uses contact forms and contact numbers for different purposes like information, support, help etc.

Blog शब्द का उदभव Web+Log से हुआ है जिसे We blog ‘वी ब्लॉग’ पढ़ा जाता है।

Difference between website and blog

सन्‌ 2009 तक ब्लॉग एक ही लेखक द्वारा संचालित हो सकता था कुछ ही सेवाएँ एक ब्लॉग पर छोटे समूह को लिखने की अनुमति देती थीं और ये प्राय: किसी एक ही विषय पर आधारित होते थे। अभी हाल ही में एक से अधिक लेखकों वाले ब्लॉगों का प्रचलन बढ़ा है, ऐसे ब्लॉगों को ‘मल्टी-आथर ब्लॉगस्‌’ (Multi-author blogs) कहा जाता है। मल्टी-आथर ब्लॉगस्‌ को समाचार पत्रों, अन्य मीडिया बाज़ार, विश्वविद्यालयों, शोध संस्थाएँ, एक समान हित वाले समूह और अन्य ऐसी संस्थानों द्वारा संचालित किया जाता है जिससे ऐसे ब्लॉगों की संख्या में भारी बढ़ोत्तरी देखी गयी है। ट्विटर और अन्य माइक्रोब्लॉगिंग सिस्टमों के उदभव ने मल्टी-आथर ब्लॉगस् और एकल लेखक चिट्ठों (Single user blog) को सामाजिक समाचार धाराओं से जुड़ने में बहुत सहायता की।

सरल शब्दों में कहा जाये तो ब्लॉग रोज़ अपडेट हो सकते हैं इन पर सामान्यत: ब्लॉग के विषय पर आधारित चर्चाएँ होती हैं तथा पाठकों की राय लेने के लिए हर पोस्ट पर टिप्पणी करने के लिए सुविधा होती है।

ब्लॉग के विपरीत वेबसाइट पर प्रोडक्ट या सर्विसेज़ (Product or services) की बात होती है इनमें प्रोडक्ट या सर्विसेज़ की जानकारी देने के साथ उनकी अपडेटस्‌ होती हैं। इन पर अधिक जानकारी के लिए या अन्य प्रकार की सहायता के लिए सम्पर्क पेज पर Contact form और फ़ोन नम्बर दिये जाते हैं। इन पर पेजों की संख्या प्रोडक्ट या सर्विसेज़ के अनुसार होती है। इन पर फ़ीड (feed) की अपेक्षा साइटमैप (sitemap) का अधिक प्रयोग देखा जाता है। साइटमैप में एक वेबसाइट के सभी पेजों का नेवीगेशन (navigation) के अनुसार उल्लेख किया जाता है।

उपरोक्त परिभाषाओं में अंतर को स्पष्ट करते हुए ब्लॉग और वेबसाइट के बीच का अंतर स्पष्ट हो जाता है

  1. ब्लॉग किसी विषय या विविध विषयों पर लिखा जाने एक चर्चा या सूचना देने का मंच है जिन पर पोस्टें होती हैं
  2. ब्लॉग पर नियमित रूप से या एक सतत परास (frequency) पर लेख इत्यादि प्रकाशित किये जाते हैं
  3. ब्लॉग किसी एक व्यक्ति समूह के द्वारा प्रबंधित किया जाता है
  4. ब्लॉग सर्च इंजनों के द्वारा क्रमवार पढ़ा (crawl) किया जाता है [Feed Sitemap]
  5. ब्लॉग पर लेखों के बारे में पाठकों की राय लेने के लिए टिप्पणी करने की सुविधा रहती है। [Disqus Comment]
  6. ब्लॉग पर पेजों की संख्या नयी पोस्टों के साथ सतत बढ़ती रहती है
  7. ब्लॉग का अपना एक फ़ीड सिस्टम होता है
  8. ब्लॉग को नयी पोस्ट के बाद सर्च इंजनों के लिए पिंग किया जाता है [Ping a blog]
  9. ब्लॉग पर विभिन्न प्रकार के पोस्ट व कमेंट विजेट या गैजेट होते हैं
  10. ब्लॉग से विज्ञापनों द्वारा कमाई की जाती है [Adsense approval]

blog and website difference, difference between blog and website, difference between website and blog, blog vs website, website vs blog, difference between blog and site, difference between site and blog, website vs blog pros cons, website vs blog business, website vs blog wordpress, website vs blog for small business, discussing blog vs website wedding photography, website vs blog seo, blog vs website difference, wordpress blog vs website, what is the difference between a blog and a website,
wordpress blog vs website, blog vs forum difference, difference site web et blog, difference between blog and website, blog or website which is better, adding a blog to your website, what is a blog used for, pros and cons of blogger vs wordpress, pros and cons of website advertising, pros and cons of blogging for business